Sports

Sachin Tendulkar 100th century | आज ही के दिन ‘क्रिकेट के भगवान’ सचिन तेंदुलकर ने लगाया था ‘शतकों का शतक’, अब तक बरकरार है रिकॉर्ड

[ad_1]

Sachin Tendulkar 100th century On this day the Sachin Tendulkar scored 'centuries of centuries', the record is still intact

नई दिल्ली: क्रिकेट के भगवान, मास्टर ब्लास्टर जैसे नाम से मशहूर सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar 100th Century) ने आज के दिन इतिहास रचा था। 16 मार्च का दिन हर क्रिकेट फैन के लिए काफी यादगार रहा है। साल 2012 में आज ही के दिन सचिन तेंदुलकर ऐसा रिकॉर्ड बनाया, जिसे आज तक कोई भी खिलाड़ी तोड़ नहीं पाया है। 

16 मार्च 2012 का वो दिन क्रिकेट के इतिहास में सुनहरे शब्दों में लिखा गया है। सचिन तेंदुलकर ने बांग्लादेश (India vs Bangladesh) के खिलाफ खेलते हुए शेर-ए-बांग्ला स्टेडियम, मीरपुर में शतक लगाया था। इस मैच में सचिन ने 147 गेंदों पर 114 रनों की पारी खेली थी। यह शतक सचिन के लिए बेहद खास था। यह उनके करियर का 100वां शतक था। सचिन ने शतक के लिए 138 गेंद खेली थी।

यह भी पढ़ें

सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) के साथ पूरी दुनिया के लिए यह लम्हा यादगार रहा है। सचिन तेंदुलकर ने अपने करियर का 100वां शतक जड़कर सबको हैरान कर दिया। क्रिकेट की दुनिया में कई दिग्गज खिलाड़ियों ने कई बड़े रिकार्ड्स अपने नाम दर्ज किए होंगे। लेकिन, मास्टर ब्लास्टर का यह रिकॉर्ड आज तक कोई भी खिलाड़ी तोड़ नहीं पाया। अपने करियर का 100वां शतक जड़कर सचिन तेंदुलकर इंटरनेशनल क्रिकेट में सबसे अधिक सेंचुरी लगाने वाले खिलाड़ी बन गए।

सचिन (Sachin Tendulkar) ने 12 मार्च 2011 को विश्व कप के दौरान साउथ अफ्रीका के खिलाफ अपना 99 वां शतक बनाया था। इसके बाद सचिन एक साल चार दिन तक 99 के आंकड़े पर ही रहे थे। हालांकि, इस दौरान सचिन के सामने कई ऐसे मौके आए कि वह अपना शतकों का शतक बना सकेंगे। लेकिन, उनकी किस्मत हार बार उनका साथ छोड़ देती थी। आख़िरकार, साल 2012 में उनकी किस्मत उनपर मेहरबान हो गई और सचिन ने  एशिया कप के मुकाबले में बांग्लादेश के खिलाफ खेलते यह रिकॉर्ड अपने नाम किया था। 

साल 2012 के मैच की बात करें तो सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) अपने करियर का 462 वां वनडे मैच खेलने उतरे थे। इस मैच में बांग्लादेश ने टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला लिया था। भारत के खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) और गौतम गंभीर क्रीज पर उतरे। लेकिन, भारत की शुरुआत थोड़ी ख़राब रही। भारत ने 25 रन पर अपना पहला विकेट खो दिया।

गंभीर के आउट होने के बाद सचिन ने विराट कोहली और सुरेश रैना के साथ मिलकर भारत का स्कोर 250 के पार पहुंचा दिया। इस मैच में सचिन (Sachin Tendulkar) की धीमी पारी को लेकर कई लोगों उनकी आलोचना की थी। भारत ने उस मैच में 50 ओवर में 289 रन बनाए थे। हालांकि, बांग्लादेश ने लक्ष्य आखिरी ओवर में 5 विकेट खोकर हासिल कर लिया।



[ad_2]

Source link