Bihar Govt SchemesLatest Bihar NewsSaving Plans

Best Post Office Plans अगर पैसों को दोगुना करना चाहते हैं! तो जल्द निवेश करें इन पोस्ट ऑफ़िस स्कीम्स में! बैंकों से भी ज्यादा ब्याज देती हैं, ये पोस्ट ऑफ़िस स्कीम्स

अगर पैसों को दोगुना करना चाहते हैं! तो जल्द निवेश करें इन पोस्ट ऑफ़िस स्कीम्स में!

बैंकों से भी ज्यादा ब्याज देती हैं, ये पोस्ट ऑफ़िस स्कीम्स

best post office plans

डाक विभाग भारत का एक विश्वसनीय विभाग है। इस अनिश्चितता के समय में जहां पर बैंकों में जमा राशि पर कोई गारंटी नहीं होती है। तब अधिकतर भारतीय पोस्ट ऑफ़िस की योजनाओं में निवेश करना पसंद करते हैं। पोस्ट ऑफ़िस में पैसों की गारंटी सरकार के पास होती है।जिस कारण आप का निवेश किया गया पूरा पैसा सुरक्षित रहता है।

जबकि बैंकों के दिवालिया होने पर आपका निवेश किया गया पैसा बर्बाद हो जाता है। पोस्ट ऑफ़िस की योजनाएं बैंक की तुलना में अधिक ब्याज और ज्यादा सिक्योरिटी प्रदान करती है। आज हम आपको पोस्ट ऑफ़िस की प्रसिद्ध योजनाओं के बारे में बताएँगे। जिनमें निवेश करके आप अच्छा खासा ब्याज प्राप्त कर सकते हैं।

पोस्ट ऑफ़िस सीनियर सिटीजन सेविंग अकाउंट स्कीम(SCSS):

डाक घर सीनियर सिटीजन सेविंग्स स्कीम

पोस्ट ऑफ़िस सीनियर सिटीजन सेविंग अकाउंट स्कीम(SCSS):

सीनियर सिटीजन सेविंग अकाउंट स्कीम बुजुर्गों के लिए पोस्ट ऑफ़िस के द्वारा शुरू की गई सबसे विश्वसनीय और जोखिम रहित योजना है। इस योजना में बुजुर्ग 1 हज़ार रुपए से 15 लाख़ रुपए तक का फ़िक्स  डिपाजिट जमा करवा सकते हैं। जिस पर सरकार 8.6 फ़ीसदी तक का ब्याज प्रदान करती है। जो बैंकों की तुलना में कहीं अधिक है।

इस ब्याज को प्रतिवर्ष तिमाही पर रिव्यू किया जाता है। जिससे इस योजना पर मिलने वाला ब्याज बढ़ भी सकता है और घट भी सकता है लेकिन ब्याज देने की दर 7.5% से कभी कम नहीं होती है। इस योजना में बुजुर्ग सिंगल व जॉइंट अकाउंट भी खुलवा सकते हैं। यह  5 साल की मैच्योरिटी वाली स्कीम है। जिसे आगे 3 वर्ष के लिए बढ़ाया भी जा सकता है। बुज़ुर्ग प्रतिवर्ष वार्षिक या मासिक रूप में  इस योजना के तहत ब्याज प्राप्त कर सकते हैं। इस योजना में आवश्यकता पड़ने पर 1% शुल्क के साथ जमा राशि को निकला भी जा सकता है। इस योजना का फायदा केवल रिटायर हो चुके कर्मचारी या 60 वर्ष की आयु से अधिक व्यक्ति ही ले सकते हैं। इस योजना की ख़ासियत यह है कि इस पर जमा राशि या निकासी राशि पर सरकार कोई भी टैक्स नहीं लगाती है।

पोस्ट ऑफ़िस मंथली इनकम स्कीम (MIS):

पोस्ट ऑफ़िस मंथली इनकम स्कीम पोस्ट ऑफ़िस की सेविंग योजनाओं में सबसे विश्वसनीय योजना है। इस योजना से आप हर महीने पोस्ट ऑफ़िस के जरिए तय रकम प्राप्त कर सकते हैं। इस योजना में आप न्यूनतम 1500 रूपए से अधिकतम 4.5 लाख़ रुपए तक जमा करवा सकते हैं। जिस पर पोस्ट ऑफ़िस आपको 7.6 फ़ीसदी तक का ब्याज प्रदान करता है। जिसे तिमाही तौर पर बढ़ाया भी जा सकता है। इस योजना की मेच्योरिटी 5 वर्ष की है। जिसे आगे 5-5 वर्षों के लिए बढ़ाया जा सकता है।

इस योजना में आप सिंगल या जॉइंट अकाउंट खुला सकती है। ज्वाइंट अकाउंट के तौर पर आप इसमें 9 लाख़ रुपए तक की राशि जमा करवा सकते हैं। इस योजना में आप अपने बच्चे, माता-पिता या परिवार की किसी भी सदस्य के नाम पर भी खाता खुला सकते हैं। इस योजना में मेच्योरिटी पूरी होने पर पूरी निवेश राशि को पोस्ट ऑफ़िस आपको पुन: प्रदान कर देगा। इस राशि पर सरकार टैक्स आरोपित नहीं करती है।

अगर आपके पोस्ट ऑफ़िस खाते में 4.5 जमा है। तो  पोस्ट ऑफ़िस ब्याज के तौर पर आपको वार्षिक 34,650 रुपए प्रदान करेगा।

पोस्ट ऑफ़िस रेकरिंग डिपॉज़िट (RD):

पोस्ट ऑफ़िस रिकरिंग डिपॉजिट योजना पोस्ट ऑफ़िस की प्रसिद्ध छोटी मासिक बचत योजना है। जिसमें प्रति महीने न्यूनतम 10 रूपए का निवेश किया जा सकता है। इस योजना मे  निवेश की अधिकतम सीमा तय नहीं की गई है। इस योजना की मैच्योरिटी 5 वर्ष की है। जिसे आवेदन करने पर 5 वर्ष के लिए बढ़ाया भी जा सकता है। इस योजना में पोस्ट ऑफ़िस 7.2 फ़ीसदी का ब्याज प्रदान करता है।

पोस्ट ऑफ़िस रेकरिंग डिपॉज़िट  RD

अगर आप बिना जोखिम के निवेश कर अधिक लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो पोस्ट ऑफिस रिकरिंग डिपॉजिट योजना बहुत ही अच्छी योजना है। इस योजना में आप प्रति महीने आवश्यकता अनुसार छोटी-छोटी बचत करके 5-10 वर्षों में 3-5 लाख़ रुपए तक प्राप्त कर सकते हैं।आवश्यकता पड़ने पर 1 वर्ष में निवेश राशि का 50% तक उठाया जा सकता है। इस निवेश योजना में भी सरकार टैक्स नहीं लगाती है।

पोस्ट ऑफ़िस नेशनल सेविंग्स सर्टिफ़िकेट (NSC):

पोस्ट ऑफ़िस की नेशनल सेविंग सर्टिफ़िकेट स्कीम पैसा निवेश करने के लिए बेहतरीन योजना है। अगर आप अपना पैसा डबल करना चाहते हैं, तो नेशनल सेविंग सर्टिफ़िकेट में अपना पैसा निवेश कर सकते हैं। मात्र 9 सालों यानी 119 महीनों  में सरकारी गारंटी के साथ पोस्ट ऑफ़िस आपका पैसा दोगुना कर देता है।

पोस्ट ऑफ़िस नेशनल सेविंग्स सर्टिफ़िकेट NSC

नेशनल सेविंग सर्टिफ़िकेट स्कीम पर सरकार 7.2 फ़ीसदी की दर से ब्याज प्रदान करती है। इस योजना की मैच्योरिटी 5 साल की होती है। जिसे आगे 5 वर्षों के लिए बढ़ाया जा सकता है। इस योजना में 1.5 लाख़ रुपए तक की जमा राशि पर कोई भी टैक्स नहीं लगाया जाता है। आप 500, 1000, 10000, 50000 रूपए  या इससे भी अधिक रुपए के सर्टिफ़िकेट ख़रीद सकते हैं। इस योजना में अधिकतम निवेश की सीमा तय नहीं की गई है।

अगर आप 100 रूपए निवेश करते हैं तो 5 साल में आपको 146 रूपए जबकि 119 महीने में ये राशि 194 रूपए से 205 रूपए हो जाती है।