News

Street dogs attack on minor boy injured badly dies during treatment in hospital

[ad_1]

गोपालगंज. बिहार में आवारा कुत्तों का कहर देखने को मिला है. मामला गोपालगंज जिला से जुड़ा है जहां आवारा कुत्तों के काटने से 11 साल के किशोर की मौत हो गयी. घटना हथुआ थाना क्षेत्र के बड़का मछागर गांव की है. मृतक किशोर का नाम शाहिद अली है, जो नसीरुल्लाह मियां का पुत्र था. आवारा कुत्ता के काटने के बाद शरीर में रैबीज फैलने से मौत की आशंका जतायी जा रही है. परिजनों के मुताबिक शाहिद अली गांव के ही एक शादी समारोह में खाने के लिए गया था, जहां रास्ते में आवारा कुत्ता ने काटकर लहुलूहान कर दिया था.

परिजन उसे इलाज के लिए हथुआ अस्पताल में लेकर गए, जहां से डॉक्टरों ने बेहतर इलाज के लिए सदर अस्पताल रेफर कर दिया. सदर अस्पताल में इलाज के दौरान किशोर की मौत हो गयी. किशोर की मौत के बाद अस्पताल परिसर में उसकी मां दहाड़ मारकर रोने लगी, वहीं, इमरजेंसी वार्ड के चिकित्सक डॉ नीरज चर्तुवेदी ने बताया कि किशोर की हालत बेहद गंभीर होने पर अस्पताल लाया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गयी. उन्होंने कहा कि किशोर को कई तरह की बीमारी थी, इसलिए मौत का कारण रैबीज है या नहीं, पोस्टमार्टम के बिना कहा नहीं जा सकता है.

किशोर की मौत के बाद अस्पताल परिसर में उसकी मां दहाड़ मारकर रोने लगी. किशोर की मां जुनैदा खातुन, शाहिल कुमार, सुहैल अली, शबनम खातुन और दिलशाद अली का रो-रो कर बुरा हाल था. सिविल सर्जन डॉ बीरेंद्र प्रसाद ने बताया कि कुत्ता काटने के बाद दिये जाने वाला इंजेक्शन पर्याप्त मात्रा में है. सदर अस्पताल समेत अनुमंडल अस्पताल, सीएचसी, रेफरल, पीएचसी समेत सभी अस्पतालों में इंजेक्शन उपलब्ध है….

आपके शहर से (गोपालगंज)

Tags: Bihar News

[ad_2]

Source link