News

Gopalganj News दबोचा गया जिले का टॉप-10 अपराधी विक्रम सिंह

विजयीपुर और कटेया थाने में कुख्यात विक्रम पर आधा दर्जन मामले हैं दर्ज

गोपालगंज जिले के टॉप टेन बदमाशों की सूची में शामिल कुख्यात विजय सिंह गैंग का सदस्य विक्रम सिंह को एसटीएफ व डीआईयू की टीम ने छपरा के परसा थाना क्षेत्र से गिरफ्तार कर लिया। विजयीपुर के सरुपाई टोला खापे गांव के इस अपराधी पर आधा दर्जन से ज्यादा रंगदारी व आर्म्स एक्ट के मामले कटेया व विजयीपुर थाने में दर्ज हैं।

एसपी स्वर्ण प्रभात ने प्रेसवार्ता में बताया कि गिरफ्तार अपराधी टॉप टेन की सूची में शामिल है। यह विजय सिंह गैंग के लिए काम करता था। इसने हथुआ प्रमंडल के ठेकेदार विजय कुमार दीक्षित से मार्च के महीने में अहियापुर में सड़क निर्माण के कार्य के दौरान रंगदारी की मांग की थी। मामले में प्राथमिकी भी दर्ज कराई गई थी। इसके बाद इसकी गिरफ्तारी करने के लिए एसटीएफ व डीआईयू जुटी थी।

ेक्निकल लिंक के आधार पर टीम ने मंगलवार की शाम उसे छपरा के परसा के समीप दबोच लिया। इस गैंग के सहयोगी विशाल साह उ़र्फ खटिक को पुलिस मार्च में ही गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज चुकी है। इसकी गिरफ्तारी से पुलिस ने राहत की सांस ली है।

नागालैंड के लाइसेंस वाला हथियार बरामद पुलिस की टीम ने कुख्यात विक्रम की गिरफ्तारी के बाद उससे पूछताछ के आधार पर सरूपाई टोला खापे स्थित उसके घर से हथियार भी बरामद की। एसपी ने बताया उसने नागालैंड का अवैध रायफल तथा आठ कारतूस रखा था। पुलिस अवैध हथियार रखने के मामले में भी उसके ऊपर एफआईआर दर्ज करेगी।

गिरफ्तारी में शामिल टीम होगी पुरस्कृत एसपी स्वर्ण प्रभात ने बताया कि इस मोस्टवांटेड की गिरफ्तारी बड़ी चुनौती थी। इसकी गिरफ्तारी से जिले की विशेष कर विजयीपुर के लोगों को बड़ी राहत मिली है। टीम में शामिल सदस्यों 5000 रुपए व प्रशस्तिपत्र देकर सम्मानित किया गया ।

टीम में थे पुलिस पदाधिकारी थे शामिल गिरफ्तारी करने वाली टीम का नेतृत्व हथुआ एसडीपीओ अनुराग कुमार ने किया। जबकि टीम में एसटीएफ इंस्पेक्टर सर्वेन्द्र कुमार सिन्हा,विजयीपुर थानाध्यक्ष नागेन्द्र सहनी,टेक्निकल सेल प्रभारी दिनेश कुमार यादव,सब इंस्पेक्टर विकास कुमार,शैलेन्द्र कुमार,प्रकाश कुमार शर्मा,रुपेश कुमार,राम नारायण पासवान व जिला पुलिस से पिंटू कुमार, प्रवीण कुमार गुड्डू कुमार सिंह,धर्मेन्द्र सिंह आदि शामिल थे।