Lifestyle

Best 5 habits for children to get better sleep at night many health problems will go away

[ad_1]

हाइलाइट्स

अच्‍छी नींद के अभाव में बच्‍चों की सेहत खराब हो सकती है.
रोज उनके सोने और जागने का रुटीन फिक्‍स करना जरूरी है.

How To Make Kid Sleep Instantly: अनिद्रा यानी नींद नहीं आने की परेशानी बचपन से शुरू हो सकती है जो कई बार बड़े होने तक रह जाती है. लाइफ स्‍टाइल में आए बदलाव इसकी वजह हो सकते हैं. ऐसे बच्‍चों को आसानी से नींद नहीं आती और अगर वे समय पर सो भी जाएं, तो नींद बहुत ही हल्‍की होती है. कम सोने की वजह से उनके मानसिक और शारीरिक सेहत पर बुरा असर पड़ता है और वे मेंटल व कई शारीरिक दिक्‍कतों का सामना करने लगते हैं. अगर आपका बच्‍चा भी रात भर करबटें बदलता रहता है और उसकी नींद पूरी नहीं हो पा रही तो आप कुछ आदतों में बदलाव लाकर उसकी समस्‍या को दूर करने में मदद कर सकते हैं. आइए जानते हैं कैसे.

बच्‍चों को बेहतर नींद के लिए अपनाएं ये तरीके

बेड टाइम करें सेट
राइजिंग चिल्‍ड्रेन
के मुताबिक, रोज एक समय पर सोने का रुटीन फिक्‍स करें. ऐसा करने से समय आते ही शरीर सोने के लिए खुद को तैयार कर लेता है. अगर आपके बच्‍चे बार बार सोने के वक्‍त में बदलाव करेंगे तो उन्‍हें नींद में दिक्‍कत आ सकती है. बड़े बच्‍चों को रात में सोने से पहले दिनभर की बात करने की आदत डालें जिससे वे खुद को सोने के लिए तैयार समझें.

बेड टाइम से पहले रिलैक्‍स जरूरी
सोने से पहले अगर आप बच्‍चों को रिलैक्‍स करने की आदत डालेंगे तो उन्हें बेहतर नींद आएगी. इसके लिए आप उन्‍हें रात में नहाने, किताब पढ़ने, अच्‍छा गाना सुनने आदि की आदत डालें.

दिन में सोने से रोके
अगर आपका बच्‍चा 5 साल से बड़ा है तो दोपहर या दिन में सोने की आदत ना डालें. अगर वे दिन के वक्‍त सोते भी हैं तो 20 मिनट इसके लिए काफी है. इससे अधिक सोने पर रात में उन्‍हें सोने में दिक्‍कत आ सकती है.

इसे भी पढ़ें : आपका बच्‍चा नहीं बना पा रहा दोस्‍त? माता पिता कर सकते हैं मदद, पैरेंटिंग के 5 तरीके आएंगे काम

माहौल का रखें ध्‍यान
सोते वक्‍त बच्‍चों के रूम में शोर ना होने दें, रूम में रोशनी ना रखें और उन्‍हें कंफर्टेबल बेड पर ही सुलाएं.  अगर उनके रूम में ब्‍लू लाइट यानी टीवी, लैपटॉप मोबाइल आदि की रोशनी आ रही है तो इससे उनकी नींद खराब हो सकती है.

इसे भी  पढ़ें : बच्‍चों को बनाना है केयरिंग? पैरेंटिंग में रखें 4 बातों का ध्‍यान, जिम्‍मेदार बनेगा आपका लाडला

डिनर टाइम करें अर्ली
बच्‍चों को खाने के करीब 2 घंटे बाद बेड पर जाना चाहिए. अगर वे खाने के तुरंत बाद बेड में सोने जाएंगे तो इससे नींद नहीं आएगी. इस‍ बात का ध्‍यान रखें तो बच्‍चे धीरे धीरे सही समय पर सोना सीख जाएंगे.

Tags: Lifestyle, Parenting

[ad_2]

Source link