Health

ओरल हाइजीन है स्वास्थ्य के लिए बहुत जरूरी, अपनाएं ये 4 आयुर्वेदिक टिप्स

[ad_1]

हाइलाइट्स

ओरल हेल्थ आपकी ओवरऑल हेल्थ को प्रभावित कर सकती है.
मजबूत दांतों के लिए ऑयल की मसाज जरूर करें.

Ayurvedic Tips for Oral Hygiene: ओरल हाइजीन यानी कि मुंह के अंदर की सारी गंदगी की सफाई और हेल्दी मजबूत दांत. आजकल की अस्त व्यस्त लाइफस्टाइल और खानपान की गलतियों के चलते हम अक्सर खुद अपने दांतो के लिए परेशानी को न्योता देते हैं क्योंकि उल्टा सीधा खाने पीने के बाद ओरल हाइजीन को भूल जाते हैं. नतीजे के तौर पर अचानक से दांत में दर्द, दांतों में सड़न और मसूड़ों के रोगों का सामना करना पड़ता है और कई बार भयानक दर्द को भी सहना पड़ता है.

आपको बतादें कई एक्सपर्ट्स के मुताबिक, डेंटल केयर या दांतों की बीमारियों का इलाज आज दुनिया का चौथा सबसे मंहगा इलाज है. वही आयुर्वेद में ओरल हाइजीन को काफी सरल तरीके से समझाया गया है, आयुर्वेद के अनुसार ओरल हाइजीन केवल मुंह तक सीमित नहीं है. ये आपकी ओवरऑल हेल्थ के लिए भी खतरा बन सकता है. इसलिए आयुर्वेद में ओरल हाइजीन को विशेष महत्व दिया है. आइए जानते हैं, ओरल हाइजीन के लिए कुछ आसान आयुर्वेदिक टिप्स.

ओरल हाइजीन और मजबूत दांतों के लिए अपनाएं ये 4 आयुर्वेदिक टिप्स 

नीम की दातुन 
आर्ट ऑफ लिविंग डॉट ओआरजी के अनुसार नीम में एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-माइक्रोबियल गुण पाए जाते हैं. इसे चबाने या दांतों में घिसने से इसके एंटी-बैक्टीरियल एजेंट निकलते हैं जो लार के साथ मिल जाते हैं और फिर मुंह में हानिकारक रोगाणुओं को खत्म करके दांतों में बैक्टीरिया के पनपने को रोकते हैं.

हर्बल टूथ और गम रब 
एक हर्बल टूथ और गम रब में कुछ चुनिंदा जड़ी-बूटियों और मसालों को मिलाकर रगड़ना भी फायदेमंद है. इनमें से कुछ मसाले अच्छे इनेमल क्लीनर के रूप में कार्य करते हैं. ये दांतों को कई प्रकार की बीमारियों से बचाते हैं.

तेल लगाना 
मुंह में तेल लगाने को ऑयल पुलिंग कहते हैं. ऐसा करने से मसूड़ों और दांतों से रोगाणुओं का सफाया होता है. यह मुंह के छालों को कम करने में मदद करता है. इससे मुंह की मांसपेशियों को मजबूती और टोनिंग मिलती है.

जीभ की सफाई 
दांतो के साथ-साथ जीभ की सफाई करना भी बहुत जरूरी है. यदि आप जीभ की सफाई नहीं करते हैं तो आपके मुंह में संक्रमण फैल सकता है. इसकी वजह से आपकी जीभ और मुंह में छाले पड़ सकते हैं जो बहुत दर्दनाक होते हैं. जीभ को साफ करने के लिए टंग स्क्रेपर का इस्तेमाल कर सकते हैं.

ये भी पढ़ें: गुड लुक्स के लिए बालों में सिंथेटिक हेयर एक्सटेंशन का इस्तेमाल करती हैं तो इस तरह करें इसकी देखभाल

इसे भी पढ़ें: स्किन को सन डैमेज से बचाना है तो करें ग्रीन कॉफी का प्रयोग, एजिंग की समस्‍या भी रहेगी दूर

Tags: Ayurvedic, Health tips, Lifestyle

[ad_2]

Source link